उत्तराखंड: दिग्गज संतों से मिलकर चुनावी मूड भांपेंगे गृह मंत्री शाह

Spread the love

उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए सभी राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। जहां सत्ताधारी भाजपा जन आशीर्वाद रैली के जरिए जनता को साध रही है, वहीं कांग्रेस परिवर्तन यात्रा कर अपने पक्ष में माहौल बनाने में जुट गई है। चुनाव की घोषणा से पहले ही भाजपा अपने दिग्गज नेता और स्टार प्रचारकों को मैदान में उतारने जा रही है। इस कड़ी में अक्तूबर माह से उत्तराखंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा समेत पार्टी के अन्य केंद्रीय नेता चुनाव प्रचार करेंगे। फिलहाल प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और रक्षा मंत्री के दौरे तय किए जा रहे हैं।

अमर उजाला को मिली जानकारी के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री अमित शाह 16, 17 और 18 अक्तूबर को उत्तराखंड के दौरे पर रहेंगे। हमेशा की तरह शाह हरिद्वार में साधु-संतों और मठों में जाकर चुनाव पूर्व परिस्थितियों का आंकलन करेंगे। भाजपा को भरोसा है कि साधु संतों को साधकर 2022 के विधानसभा चुनावों में वह चुनावी नैया पार कर लेंगे। शाह अपने दौरे के दौरान अखिल विश्व गायत्री परिवार शान्तिकुंज जा सकते हैं, जहां वे डॉ. प्रणव पंड्या से मुलाकात कर सकते हैं। इसके अलावा शाह कनखल, हरिद्वार में स्वामी अवधेशानंद गिरि से भी मिलेंगे। संत सत्यामित्रानंद गिरी को श्रद्धांजलि देने भारत माता मंदिर भी जा सकते हैं। वहीं शाह देहरादून और जोशी मठ में आईटीबीपी के कार्यक्रम के अलावा ऋषिकेश में गंगा आरती में भी शामिल हो सकते हैं।

सूत्रों के अनुसार, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एक अक्तूबर को देहरादून से प्रदेश में चुनावी शंखनाथ करने जा रहे हैं। पीएम मोदी दीपावली के आसपास केदारनाथ धाम की यात्रा कर सकते हैं। इसके अलावा पार्टी प्रधानमंत्री का बद्रीनाथ और उत्तरकाशी में भी कार्यक्रम चाहती है। राज्य में विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राज्य में दो जनसभाएं हो सकती हैं। 2017 में पीएम ने देहरादून, रुद्रपुर के साथ साथ उत्तराखंड के कई क्षेत्रों में रैलियां की थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *