पूर्वांचल विवि के दीक्षांत समारोह में राज्यपाल ने छात्र-छात्रों को दिए गोल्ड मेडल

Spread the love

राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने मंगलवार को पूर्वांचल विश्वविद्याल परिसर में महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा का लोकार्पण किया। इससे पहले उन्होंने परिसर में स्थापित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व मुख्यमंत्री वीर बहादुर सिंह की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।

राज्यपाल दो दिवसीय प्रवास पर जौनपुर पहुंचीं हैं। पहले दिन उन्होंने महिला स्वयं सहायता समूह और किसान उत्पादन संगठनों के साथ बैठक की थी। राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम की समीक्षा की थी। मंगलवार की सुबह महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा का लोकार्पण किया। बहराइच में महाराजा सुहेलदेव के प्रतिमा स्थापना समारोह में वर्चुअल माध्यम से भी शामिल हुईं।

राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने पूर्वांचल विश्विद्यालय के 24वें दीक्षांत समारोह में बतौर कुलाधिपति संबोधित किया। समारोह के मुख्य अतिथि रानी लक्ष्मीबाई केंद्रीय कृषि विवि झांसी के कुलाधिपति प्रो. पंजाब सिंह ने कहा कि भारत एक युवा देश है। युवाओं के मामले में हम विश्व के सबसे समृद्ध देश हैं। युवाओं में ऊर्जा है, उत्साह है, उमंग है, उत्सुकता है, असीमित सम्भावनाओं से युक्त कल्पनाओं की उड़ान है।

सपनों को देखने और पूरा करने की हिम्मत है। भारत सरकार की नई शिक्षा नीति देश के युवाओं में उड़ान भरने के लिए पंख लगाने एवं पुराने गौरव प्राप्त करने का प्रयास है। हमें अपने युवा पीढ़ी को सही मायने में शिक्षित करना होगा, उन्हें किताबी ज्ञान से बाहर निकालकर व्यवहारिक ज्ञान की सीमाओं तक लाना होगा।

हमारा युवा नौकरी देने वाला उद्यमी बने, न कि नौकरी ढूंढने वाला। कुलपति प्रो. निर्मला एस मौर्य ने कहा कि बौद्धिक विकास की यह प्रयोगशाला अपने उद्देश्यों के निरंतर नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। कोविड काल मे भी विवि निरन्तर प्रगति पथ पर अग्रसर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *