बड़ी खबरः कोरोना वायरस के साथ देश में डेंगू का डबल अटैक

Spread the love

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस महामारी की संभावित तीसरी लहर की आशंका बनी हुई है. कोरोना के डेल्टा स्वरूप का खतरा भी अभी नहीं टला है. अधिक तेजी से फैलने वाला यह वेरिएंट पूरी दुनिया में कोहराम मचा रहा है. इस बीच, डेंगू और वायरल बुखार ने भारत के कई राज्यों को अपनी जद में ले लिया है. सबसे अधिक असर तो उत्तर प्रदेश में हुआ, जहां डेंगू से मरने वालों की तादाद 75 तक जा पहुंची है. इसके अलावा दिल्ली, मध्य प्रदेश और दूसरे राज्यों में भी डेंगू के मरीज काफी संख्या में आ रहे हैं, जिससे अस्पताल पर बोझ बढ़ता जा रहा है. बड़ी संख्या में मरीजों के अस्पताल पहुंचने से डॉक्टर और स्वास्थ्य अधिकारी भी काफी परेशान हैं. डेंगू के मच्छर साफ और स्थिर पानी में पैदा होते हैं, जबकि मलेरिया के मच्छर गंदे पानी में भी पनपते हैं.

उत्तर प्रदेश में डेंगू से करीब 100 लोगों की मौत हो चुकी है. फिरोजाबाद में डेंगू और वायरल बुखार ने अब तक 75 लोगों की जान ले ली है. मथुरा में 17 लोगों को इस बीमारी की वजह से अपनी जान गंवानी पड़ी है, जबकि कानपुर में सात दिनों के भीतर ही 10 लोगों की मौत हो चुकी है. डेंगू के साथ ही वायरल बुखार भी अपना असर दिखा रहा है. प्रदेश के गोंडा जिले में हर रोज 3000 से अधिक मरीज संदिग्ध बुखार के शिकार हो रहे हैं. गोरखपुर, मैनपुरी समेत अन्य जिलों में भी डेंगू का असर तेजी से बढ़ रहा है. इस बीच केंद्र ने हालात पर काबू पाने के लिए दो टीमों को फिरोजाबाद भेजा है और राज्य सरकार को भी कुछ दिशानिर्देश जारी किए गए हैं. अस्पतालों में मरीजों की बड़ी संख्या से स्वास्थ्य व्यवस्था बुरी तरह से चरमरा गई है. डॉक्टर और स्वास्थ्य अधिकारी भी इस हालात से काफी परेशान हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल अगस्त महीने के दौरान ही दिल्ली में डेंगू के 72 मामले सामने आए, जोकि अब तक सामने आए कुल मामलों का 58 प्रतिशत है. सितंबर महीने के शुरुआती चार दिनों में डेंगू का कोई मामला सामने नहीं आया. रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में इस वर्ष जनवरी में डेंगू का कोई मामला सामने नहीं आया, जबकि फरवरी में दो, मार्च में पांच, अप्रैल में 10, मई में 12, जून में सात और जुलाई में 16 मामले सामने आए. हालांकि, दिल्ली में डेंगू से इस साल अब तक किसी मरीज की मौत नहीं हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *