यूपीः कांग्रेस से भाजपा में आये जितिन प्रसाद बने कैबिनेट मिनिस्टर

Spread the love

लखनऊ: कांग्रेस से छोड़कर भाजपा में शामिल हुये जितिन प्रसाद योगी मंत्रिमंडल में शामिल हो गये हैं. कैबिनेट मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है. योगी मंत्रिमंडल विस्तार में 7 नये मंत्री शपथ ले रहे हैं, जिसमें केवल जितिन प्रसाद को ही कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं, इसे देखते हुए योगी मंत्रिमंडल का विस्तार किया जा रहा है, जिसके जरिये यूपी में जातीय सियासत को साधने की कोशिश बीजेपी करेगी.

जितिन प्रसाद मनमोहन सिंह की सरकार में केंद्र में मंत्री रह चुके हैं. कांग्रेस में लंबी पारी खेलने वाले जितिन प्रसाद ने कुछ महीनों पहले बीजेपी ज्वाइन कर ली थी. जितिन प्रसाद के भाजपा ज्वाइन करने और अब उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल करने को बीजेपी की आगामी चुनावों में ब्राह्मण को जोड़ने की राजनीति के रूप में देखा जा रहा है. बता दें कि जितिन प्रसाद ने कुछ महीने पहले केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और बीजेपी चीफ जेपी नड्डा की मौजूदगी में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुये थे.

जितिन प्रसाद को विरासत में मिली है राजनीति
वैसे शाहजहांपुर के जितिन प्रसाद को राजनीति विरासत में मिली है. पिता राजीव गांधी और नरसिम्हा राव के राजनीतिक सलाहकार थे, खुद HRD राज्यमंत्री रहे. कांग्रेस पार्टी के चर्चित चेहरे रहे जितिन प्रसाद अब बीजेपी शामिल हो चुके हैं. अब प्रसाद को यूपी के आगामी चुनावों में ब्राह्मण चेहरा के रूप में पेश करने की संभावनाएं हैं. जितिन प्रसाद के परिवार की तीन पीढ़ियां कांग्रेस पार्टी से सक्रिय राजनीति में रही हैं. जितिन प्रसाद को यूपी में कांग्रेस के चर्चित युवा चेहरों में से एक कहा जाता था. वो राहुल गांधी के करीबी नेताओं में से एक रहे और प्रदेश में ब्राह्मण वोटों की गोलबंदी में कांग्रेस उन्हें एक बड़े चेहरे के रूप में इस्तेमाल करना चाहती थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *