हम सब अपने कर्तव्य के प्रति सचेत रहें: सीएम योगी

Spread the love

लखनऊ (ब्यूरो रिपोर्ट): उत्तर प्रदेश दिवस के तीन दिवसीय आयोजन का रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शिल्पग्राम में समापन किया. इस मौके पर उन्होंने वहां मौजूद कलाकारों के साथ विशिष्ट अतिथियों को भी संबोधित भी किया. कलाकारों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे संविधान पर हमें गौरव की अनुभूति होती है, क्योंकि संविधान के कारण ही हम न केवल दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र हैं, बल्कि संविधान ने हमें मताधिकार का समान अधिकार भी दिया है. जहां हम सब अपने कर्तव्यों के प्रति सचेत रहते हैं, वहां कोई टकराव नहीं होता. वहां कोई स्वार्थ नहीं होता.

योगी ने कहा कि सब देश के कल्याण के लिए काम करते हैं, इसलिए किसी भी प्रकार का कोई मतभेद और मनभेद नहीं होता. उत्तर प्रदेश प्रदेश के माध्यम से देश और दुनिया को हम बहुत कुछ दे सकते हैं. इसके लिए प्रदेश की 23 करोड़ जनता को पूरी ईमानदारी और ताकत से अपने संवैधानिक दायित्वों का पालन करना होगा. हमारे देश का 71वां गणतंत्र दिवस हमें यही प्रेरणा दे रहा है. सीएम योगी ने कहा कि कला में पारंगत दिव्यांग बच्चों ने आत्मविश्वास से ओतप्रोत शानदार प्रदर्शन किया, मैं उनके सभी शिक्षकों को इस परिश्रम के लिए हृदय से बधाई देता हूं.

यहां पर बेगम अख्तर पुरस्कार भी इस मंच से उन परंपरागत घरानों के उस्तादों को दिया गया, जिन्होंने प्रदेश की कला एवं संस्कृति को नई ऊंचाई तक पहुंचाने का कार्य किया. मुझे इन उस्तादों को सम्मानित कर प्रसन्नता की अनुभूति हुई. मैं उन सभी का हृदय से अभिनंदन करता हूं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुझे यह बताते हुए अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि आज 56 लाख 66 हजार से अधिक बच्चों की छात्रवृत्ति ऑनलाइन क्लिक के माध्यम से उनके खातों में भेजने की कार्रवाई की गई है.

पहली किस्त दो अक्टूबर को और दूसरी किस्त 26 जनवरी को छात्रवृत्ति और शुल्क प्रतिपूर्ति की धनराशि उनके खातों में हमेशा भेजी जाए. योगी ने कहा कि उप्र देश और और दुनिया को बहुत कुछ दे सकता है. 56 लाख 66 हजार छात्रों के खातों में छात्रवृत्ति और शुल्क प्रतिपूर्ति ऑनलाइन ट्रांसफर करने के साथ ही सीएम योगी ने कहा कि पहले छात्र कार्यालयों के चक्कर काटते थे. हमने तय कर दिया कि समाज कल्याण विभाग हर हाल में पहली किश्त दो अक्टूबर और दूसरी किश्त 26 जनवरी को खातों में ऑनलाइन भेज देगा. आज से यह व्यवस्था पूरी तरह अमल में आ चुकी है. अब छात्र अपने समय और ऊर्जा का बेहतर इस्तेमाल कर प्रदेश और देश का नाम रोशन करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *