UP की झांकी में राममंदिर का प्रतिचित्र और अयोध्या की सांस्कृतिक विरासत का किया गया प्रदर्शन

Spread the love

नयी दिल्ली। गणतंत्र दिवस परेड के दौरान राजपथ पर मंगलवार को निकाली गई उत्तर प्रदेश की झांकी में प्राचीन पवित्र नगर अयोध्या की सांस्कृतिक विरासत, राम मंदिर का प्रतिचित्र और रामायण की विभिन्न कहानियों का प्रदर्शन किया गया। झांकी में आगे के हिस्से में महर्षि वाल्मिकी की प्रतिमा थी तथा पिछले हिस्से पर मंदिर का प्रतिचित्र था। राज्य टीम के साथ मौजूद उत्तर प्रदेश सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि अयोध्या हमारा पवित्र स्थान है और राम मंदिर का मुद्दा भक्तों के लिए एक भावनात्मक मुद्दा है। हमारी झांकी ने देश भर के अनगिनत लोगों द्वारा पूज्य मंदिर शहर की प्राचीन विरासत को प्रदर्शित किया है। झांकी में कई कलाकारों ने संतों जैसे भेष धारण किए हुए थे। गणतंत्र दिवस परेड में कुल 17 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों की झांकियां निकाली गई। इस बार गणतंत्र दिवस समारोह को कोविड-19 महामारी की वजह से छोटा किया गया है।

कोरोना वायरस के बचाव के उपायों को लागू किया गया था जिसमें एक-दूसरे दूरी बनाए रखना शामिल है। उत्तर प्रदेश झांकी टीम एक सदस्य अजय कुमार ने पहले कहा था, मैं बहुत उत्साहित और खुश हूं कि अयोध्या और उसकी विरासत हमारी झांकी में दिखाई जाएगी। चंदौली जिले के लक्ष्मणगढ़ के निवासी कुमार ने कहा, हम राजपथ पर अयोध्या की विरासत को दिखाने का इंतजार कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश की झांकी में एक तरफ अयोध्या के दीपोत्सव का प्रदर्शन किया गया और दीए जलाए गए जबकि अन्य भित्तिचित्रों में भगवान राम द्वारा निषादराज को गले लगाना, उनके द्वारा शबरी का बेर खाना, अहिलया की मुक्ति, भगवान हनुमान द्वारा संजीवनी लाना, जटायु-राम संवाद और अशोक वाटिका समेत अन्य दृश्य दिखाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *